fbpx

About Me

Rashmi Bansal is a writer, entrepreneur and a motivational speaker. An author of 10 bestselling books on entrepreneurship which have sold more than 1.2 million copies ….

Learn More
signature

Category: Dainik Bhaskar

रात के उल्लू नहीं, सुबह की चहकती चिड़िया बनिए, मनोविशेषज्ञ सलाह देते हैं कि अपने मोबाइल को अलग कमरे में सुलाइए

04.01.2021 कल रात मुझे ठीक से नींद नहीं आई। काफी देर तक मैं करवटें बदलती रही। नींद से कहा-आ आ आजा, आ आ आजा, आ ….

मिस्र में टूरिस्ट एरिया के बाहर का ‘काहिरा’ काफी कुछ दिल्ली जैसा लगता है

24.11.2021 मुझे घूमने-फिरने का बहुत शौक है। मगर चाहे देश हो या विदेश, मैं सिर्फ स्मारक, संग्रहालय और सीनरी नहीं देखना चाहती। मैं शहरों की ….

हीरा और पन्ना की कहानी, मनुष्य के बेलगाम लालच का सच सामने लाती है

25.11.2021 यह कहानी है दो भाइयों की। जो साथ पैदा हुए, पले-बढ़े। मां ने एक दिन कहा, बच्चों समय गया है, तुम्हें अपने रास्ते जाना ….

समय असली सोना है, वो हमें नहीं खोना है; जरूरत है अदालतों को अब आधुनिक युग में कदम रखते हुए बदलाव की

17.11.2021 क्या आप किसी कोर्ट-कचहरी के मामले में फंसे हुए हैं? क्या आपने काले कोट वाले वकील को कभी सुना है यह कहते हुए, मिलॉर्ड, ….

समय असली सोना है, वो हमें नहीं खोना है; जरूरत है अदालतों को अब आधुनिक युग में कदम रखते हुए बदलाव की

30.10.2021   क्या आप किसी कोर्ट-कचहरी के मामले में फंसे हुए हैं? क्या आपने काले कोट वाले वकील को कभी सुना है यह कहते हुए, ….

इंदिरा नूयी की जिंदगी से मिला सबक…हमें बदलनी होगी पुरुष-प्रधान, प्रॉफिट-भगवान वाली सोच

29.09.2021 एमबीए विद्यार्थी के जीवन में दो सबसे महत्वपूर्ण दिन होते हैं। एक जब उसे एडमिशन की खुशखबरी मिलती है। दूसरा, नौकरी पाने के लिए ….

वॉट्सएप से ध्यान हटाएं, ज्ञान की गंगा में डूबें, ‘बैनिस्टर इफेक्ट’ से कीजिए अपने मन का कम्प्यूटर अपडेट

15.09.2021 सोचो कि आज है आपकी जिंदगी का सबसे महत्वपूर्ण दिन। ऐसा दिन जो इतिहास के पन्नों पर हमेशा याद किया जाएगा। सुबह नींद से ….

आत्मनिर्भरता महज नारा नहीं, जीवनशैली है, इस पर गर्व करें, हमारे वैज्ञानिकों के जीवन से लें प्रेरणा

01.09.2021 बेटा इंजीनियरिंग कर ले, अच्छी नौकरी लग जाएगी। यह हिदायत लाखों बच्चों को आज भी दी जाती है। ऐसे ही एक शख्स थे बम्बई ….

क्यों सुंदर, सरल और साफ दुनिया आज भी एक सपना है, रुकैया बेगम की काल्पनिक दुनिया की सैर

18.08.2021   सन 1880 में आज के बांग्लादेश के रंगपुर जिले में एक बच्ची का जन्म हुआ। ये उस समय की बात है, जब ज्यादातर ….